Breaking News

जालसाजों ने मंत्र पढ़ाकर महिला को बनाया ठगी का शिकार

रिंकू श्रीवास्तव 

जौनपुर-खेतासराय। स्थानीय थाना क्षेत्र के कस्बा स्थित वार्ड नम्बर 9 गोलबाजार निवासी शीला देवी (50) पत्नी दिनेश चन्द बरनवाल को फिल्मी अंदाज में चार पहिया वाहन से आये तांत्रिक बन कर ठगों ने अपने जाल में फंसा कर लगभग सात लाख के आभूषण पर हाथ साफ कर दिया।

जानकारी के अनुसार उक्त वार्ड निवासी शीला देवी शनिवार की दोपहर बाजार से कुछ सामान खरीदने गई थी। तभी बाजार में ही एक किशोर की उनसे मुलाकात हो गयी। जो महिला को पैर से बीमार देखकर मुखातिब होते हुए बोला माता जी आप लंगड़ा के क्यों चलती है। घुटनो में दर्द है क्या? जिसपर महिला ने अपनी और अपने पति की दास्तान उसको बताने लगी कि मेरे पति मुझसे अधिक बीमार रहते हैं। तमाम इलाज के बाद भी ठीक नही हो रहे हैं। तभी तथाकथित तांत्रिक वहां पर आगया और षडयंत्र के तहत किशोर पर भड़क गया। तांत्रिक ने उक्त महिला से वार्तालाप कर करके अपने चंगुल में फंसा लिया। वहीं खङे किशोर ने बताया कि मेरे माता पिता इसी तरह बीमार रहते थे। यही महाराज ने ठीक किया है। और इसी बीच किशोर गायब होगया। तांत्रिक महिला को विश्वास में लेते हुए कहा आप के परिवार पर शनिदेव का संकट है। घर का सब सोने का आभूषण लेके आओ शनिदेव का संकट सोने के आभूषण से हटा कर भूत प्रेत को नष्ट कर देता हूँ। जाओ घर से अपना सब सिर्फ सोने का ज़ेवर लाना क्यों कि शनिदेव का संकट सिर्फ सोने के जेवर पर है।साथ ही महिला को ज़ेवर लाने की विधि भी तांत्रिक ने बताया कि कोई जानने न पाये न ही टोकने पाये। सूर्यास्त से पहले ही आना नही तो मन्त्र नही चलेगा। उसकी बातों में आकर महिला ने अपने घर से अपनी 3 बेटियों सहित अपना आभूषण लेकर निश्चित स्थान पर मार्किट में पहुँची। जेवरात में एक हार चार चैन छह अंगूठी दो झाला दो मांग टीका दो कंगन दो झुमका एक नेकलस चार कील आदि लगभग सात लाख मूल्य के आभूषण ठग के हवाले कर दिया और तांत्रिक का एक अन्य आदमी भी अपना कुछ आभूषण ले आया। फर्जी तरीके से ढोंग करके उसने भी तांत्रिक के आदेशों का पालन करने लगा तांत्रिक ने कहा आंख बन्द करके दोनों लोग ॐ नमःशिवाय का मंत्र पढो। और खुद भी पढ़ने लगा और महिला का आभूषण निकाल के उसके डिब्बे में मिट्टी आदि भर दिया, और धागे से डिब्बा बांध दिया। मंत्रोच्चार्ण के बाद कहा कि घर जाओ सोमवार की सुबह सूरज निकलने से पहले मन्त्र पढ़ते हुये थाली में कुछ तांत्रिक द्वारा दिया हुआ फूल व तंत्र मंत्र के समान के साथ खोलना। इस दौरान हनुमान जी के मंदिर में अगरबत्ती जलाते रहना और में अगले हफ्ते पुनः आऊंगा। अपने और अपने पति के स्वस्थ्य के बारे में मुझे औगत कराना यह कहते हुये दोनों फरार हो गये। कथित तांत्रिक ने कहा कि यदि किसी को हमराज़ बनाया तो कष्ट से मुक्ति नही मिलेगी। डरी सहमी महिला ने सोमवार को जब डिब्बा खोला तो उसके पैर की ज़मीन खिसक गई। डिब्बे में मिट्टी देखकर महिला हतप्रभ रह गई। अपने कर्म के से शर्मिन्दा होकर पुलिस को घटना की सूचना भी नही दी। महिला ने बातचीत करने पर बताया कि मुझे ठगों ने कुछ सुंघा दिया था, जिससे मेरी बुद्धि भ्रस्ट होगई थी। घटना को लेकर नगर में तरह तरह की चर्चाएं हो रही हैं।

About ekhlaquekhan

x

Check Also

नही रहे महाकवि गोपालदास नीरज

एखलाक खान expresssamachar.com   हिंदी ...

सरकारी तंत्र की उपेक्षा कहीं प्राइवेट हाथों में देने की साजिश तो नहीं?

शाहगंज (जौनपुर) गुलाम साबिर expresssamachar.com ...

शशि थरूर का विवादित बयान और “हिन्दू पाकिस्तान”

फज़लूर्रहमान शैख़ expresssamachar.com पूर्व केन्द्रीय ...

स्वच्छ भारत अभियान को पलीता लगाता स्वास्थ्य महकमा

शाहगंज (जौनपुर) गुलाम साबिर expresssamachar.com ...

सचिन और धोनी से भी ज्यादा संघर्ष की भट्ठी में तपे लड़के की कहानी

नई दिल्ली। नवनीत मिश्रा Expresssamachar.com ...

%d bloggers like this: